देश

NEET से लेकर NET तक शिक्षा माफियाओं का साम्राज्य? NTA पर कब-कब उठे हैं सवाल

पिछले कुछ सालों से देश भर में आयोजित हो रहे अधिकतर परिक्षाओं में अनियमितता की शिकायत होती रही हैं. अब NTA को लेकर भी गंभीर सवाल खड़े हो रहे हैं.

नई दिल्ली

शिक्षा मंत्रालय ने राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) द्वारा आयोजित यूजीसी-नेट परीक्षा रद्द करने का बुधवार को आदेश दिया और मामले को गहन जांच के लिए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) को सौंपा गया है. उन्होंने बताया कि यूजीसी-नेट परीक्षा इसलिए रद्द की गई कि ऐसी जानकारी मिली थी कि परीक्षा की शुचिता से समझौता किया गया है.  मंत्रालय का यह फैसला, मेडिकल प्रवेश परीक्षा ‘NEET’ (राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा) में कथित अनियमितताओं को लेकर उपजे बड़े विवाद के बीच आया है और यह मुद्दा अब सुप्रीम कोर्ट में है.

पिछले कुछ सालों से देश भर में आयोजित हो रहे अधिकतर परिक्षाओं में अनियमितता की शिकायत होती रही हैं. राजस्थान से लेकर बिहार तक छात्रों के द्वारा इसे लेकर आंदोलन किया गया है. हालांकि सरकार के तमाम दावों के बाद भी शिक्षा माफियाओं का साम्राज्य लगातार बढ़ता ही जा रहा है. 

क्या है NTA? 
2017 में केंद्र की मानव संसाधन विकास मंत्रालय की तरफ से उच्च शिक्षा में प्रवेश के लिए एक एकल, स्वायत्त  और स्वतंत्र एजेंसी का गठन करने की घोषणा की गयी. प्रवेश परीक्षाओं को दोषमुक्त रखने के उद्देश्य से सरकार की तरफ से इसके स्थापना की बात कही गयी. 1 मार्च 2018 को नेशनल टेस्टिंग एजेंसी(NTA)अस्तित्व में आ गया. इसके माध्यम से विभिन्न यूनिवर्सिटी और कई संस्थानों में प्रवेश के लिए परीक्षाओं का आयोजन की शुरुआत हुई. साल 2018 से लेकर अब तक एनटीए की तरफ से कई NEET, NET सहित कई महत्वपूर्ण परीक्षाओं का आयोजन किया गया. हालांकि कई बार उसके ऊपर सवाल खड़े हुए हैं.

पहली बार JEE मेंन्स 2019 में उठे थे सवाल
एनटीए की कार्यप्रणाली पर साल 2018 में कोई सवाल खड़े नहीं हुए. हालांकि साल 2019 में JEE मेंन्स के दौरान छात्रों को सर्वर में खराबी होने के कारण परेशानी का सामना करना पड़ा जिसके बाद इसके कार्यप्रणाली को लेकर गंभीर सवाल खड़े हुए थे. साथ ही कुछ जगहों पर छात्रों ने प्रश्न पत्र में देरी की भी शिकायत की थी.

Latest and Breaking News on NDTV

NEET अंडरग्रेजुएट मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम 2020 को कई बार करना पड़ा स्थगित
NEET अंडरग्रेजुएट मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम 2020 में एनटीए पर गंभीर सवाल खड़े हुए थे. एग्जाम को कई बार स्थगित करना पड़ा था. इस परीक्षा में कई अनियमितता की शिकायतें सामने आयी थी. जेईई में भी परीक्षा में गड़बड़ी की शिकायतें देखने को मिली थी.

 

 

साल 2021 में NEET और JEE में गड़बड़ी की हुई शिकायत
साल 2021 में जेईई मेन्स के एग्जाम में कुछ गलत प्रश्न को लेकर भी हंगामा देखने को मिला था. कई जगहों पर शिक्षा माफियाओं के द्वारा गलत तरीके से एग्जाम पास करवाने की कोशिशों का भी आरोप लगा था. इसी साल हुए NEET के एग्जाम में राजस्थान के भांकरोटा में सॉल्वर गैंग के द्वारा गड़बड़ी करने का मामला सामने आया था. इस मामले को लेकर भी देश भर में हंगामा देखने को मिला था.

Latest and Breaking News on NDTV

 

CUET 2022 में गड़बड़ियों के बाद दोबारा हुई थी कुछ जगहों पर एग्जाम
विभिन्न केंद्रीय, राज्य, प्राइवेट और डीम्ड यूनिवर्सिटी में प्रवेश के लिए आयोजित कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट में  साल 2022 में गड़बड़ी की शिकायतें हुई थी. सबसे अधिक शिकायतें राजस्थान से आयी थी. जिसके बाद एजेंसी को कुछ जगहों पर फिर से एग्जाम करवाना पड़ा था.  इसी साल नीट के एग्जाम में भी गड़बड़ी की शिकायतें आयी थी.

 

NEET 2024 को लेकर जारी है हंगामा

NEET 2024 के एग्जाम को लेकर देश भर में हंगामा देखने को मिला. छात्र ग्रेस मार्क्स को लेकर नाराज थे. यह मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है. पेपर लीक की खबरों से एनटीए की विश्वसनीयता और पारदर्शिता पर कई सवाल खड़े हो गए. इस परीक्षा में 67 ऐसे छात्र थे जिन्हें 720 में से 720 अंक मिले थे. जिसे लेकर भी हंगामा देखने को मिला.  बाद में एनटीए की तरफ से ग्रेस मार्क्स वाले छात्रों का फिर से एग्जाम लेने की बात कही गयी. नीट के एग्जाम में सॉल्वर गैंग के हस्तक्षेप का मामला भी सामने आया है.

Latest and Breaking News on NDTV

 

18 जून को हुई UGC-NET 2024 की परीक्षा रद्द
18 जून को ही NET की परीक्षा हुई थी. UGC को गृह मंत्रालय से पेपर आउट होने का इनपुट मिला है. परीक्षा में गड़बड़ी के चलते इसे रद्द कर दिया गया है.  यह परीक्षा भी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) कंडक्ट करवाया था. UGC NET की परीक्षा देशभर की यूनिवर्सिटी में PhD एडमिशन, जूनियर रिसर्च फेलोशिप (JRF) और असिस्टेंट प्रोफेसर के पद के लिए होता है. 317 शहरों के 1205 सेंटरों में मंगलवार को यह परीक्षा हुई थी. कुल 9 लाख 9 हजार 508 छात्र-छात्राओं ने NET की परीक्षा दी थी.

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close