Breaking News

NDA सरकार एक साल में गिर जाएगी, ‘इंडिया’ गठबंधन विकल्प के रूप में सामने आ सकता है : संजय सिंह

आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि केंद्र में गठबंधन सरकार एक साल से अधिक नहीं चल पाएगी और जब भी मौका मिलेगा विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ खुद को विकल्प के रूप में पेश करेगा।

 

नेशनल डेस्क 

आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि केंद्र में गठबंधन सरकार एक साल से अधिक नहीं चल पाएगी और जब भी मौका मिलेगा विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ खुद को विकल्प के रूप में पेश करेगा। सिंह ने कहा कि ‘आप’ ने तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के अन्य सहयोगियों से अपील की है कि अगर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने सहयोगी दलों के नेता को लोकसभा अध्यक्ष के रूप में नियुक्त नहीं करती है, तो ‘इंडिया’ गठबंधन के सहयोगी दल “उन्हें समर्थन देने पर विचार करेंगे।”

पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई की बैठक के लिए यहां आए सिंह ने विपक्षी नेताओं को जेल में डालने को लेकर भी भाजपा की आलोचना की। सिंह ने कहा, ‘‘आज आपने हमारे (पार्टी) प्रमुख अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया तथा सत्येंद्र जैन एवं (झामुमो के) हेमंत सोरेन को जेल में डाल दिया है। मैं भी छह महीने जेल में रहा हूं।” उन्होंने कहा, ‘‘संजय रावत, अनिल देशमुख आदि जेल में हैं। भाजपा अपने सहयोगी दलों के भीतर तोड़फोड़ मचाएगी। आप विपक्ष को दबाकर राजनीति करना चाहते हैं।” सिंह ने कहा, ‘‘देश की जनता इसे बर्दाश्त नहीं करेगी।”

आप नेता ने कहा कि जिस तरह से भाजपा ने अपने सहयोगियों को “सिर्फ नाममात्र के मंत्रालय” दिए हैं, वह “इस बात का स्पष्ट संकेत है कि भाजपा अपने सहयोगियों को विघटित कर देगी और यह गठबंधन सरकार एक साल से अधिक नहीं चल पाएगी।” उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने राजग की एक सरकार को 13 दिन में गिरते देखा है, दूसरी को 13 महीने में और अब नरेन्द्र मोदी की यह तीसरी सरकार एक साल भी पूरा नहीं कर पाएगी। हम राजनीतिक गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं और जब भी वैकल्पिक सरकार का अवसर आएगा, मौजूदा तानाशाही सरकार को बेदखल कर दिया जाएगा।”

उन्होंने अचानक चुनाव कराये जाने की संभावनाओं पर कहा, “मध्यावधि चुनाव नहीं होंगे, लेकिन अगर राजग की सरकार गिरती है, तो देश में ‘इंडिया’ गठबंधन सरकार बनाएगा।” सिंह ने आरोप लगाया कि भाजपा ने मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, कर्नाटक, महाराष्ट्र में अपनी सरकार बनाने के लिए राजनीतिक जोड़-तोड़ की। उन्होंने कहा कि वे यही करते हैं। यहां कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी की सभी आठ उत्तर प्रदेश इकाइयों ने भाग लिया। सिंह ने कहा, “आने वाले दिनों में हमें उत्तर प्रदेश में पार्टी का विस्तार करना है और इसी पर आज हमने चर्चा की। हम 14 जुलाई को लखनऊ में पार्टी कार्यकर्ताओं का सम्मेलन करेंगे।”

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close