क्राइम

राजस्थान: शराब माफियाओं का कहर, युवक ने अवैध शराब बेचने का किया विरोध, कारिंदों ने उधेड़ डाली चमड़ी

राजस्थान के चूरू जिले में शराब माफियाओं की हैवानियत का बड़ा मामला सामने आया है. यहां एक गांव में अवैध शराब बेचने वाले शराब माफियाओं का विरोध करना एक युवक को भारी पड़ गया. शराब माफियाओं और उनके कारिंदों ने इस युवक को नग्न कर गीली लकड़ियों से बेहरमी से पीट-पीटकर उसकी खाल उधेड़ डाली. उन्होंने बाकायदा इसका वीडियो बनाया और फिर सोशल मीडिया पर डाल दिया.

-चूरू में युवक की बेरहमी से पिटाई करने वाले सभी आरोपियों के चेहरे वायरल वीडियो में साफ दिखाई दे रहे हैं.

चूरू. हाल ही में 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस पर चूरू जिले के कैलास गांव को शराब मुक्त करने का संकल्प लिया गया था. गांव में शराब माफियाओं की अवैध दुकानों को बंद करने का आव्हान किया गया था. लेकिन शराब माफियाओं को यह इतना नागवार गुजरा कि उन्होंने एक युवक का अपहरण कर लिया. बाद में उसके नग्न कर गीली लकड़ियों से बेरहमी से पीटा गया. शराब माफियाओं और उनके कारिंदों ने अमानवीता की सारी हदें पार करते हुए लकड़ियों से उसकी चमड़ी उधेड़ डाली.

शराब माफियाओं ने अपनी दहशत फैलाने के लिए युवक की पिटाई का वीडियो बनाया. बाद में युवक को अंजाम भुगतने की धमकी देते हुए उस वीडियो को वायरल कर दिया. यह वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है. इसमें शराब माफिया युवक को नग्न कर उसे बुरी तरह से पीट रहे हैं और वह रहम की भीख मांग रहा है. वीडियो वायरल होने के बाद 25 अगस्त को पीड़ित के भाई ने तारानगर थाने में आरोपियों के खिलाफ आईपीसी व आईटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज करवाया है.

वीडियो में दिखाई दे रहे हैं सभी आरोपियों के चेहरे
इस पूरे घटनाक्रम के दौरान युवक की पिटाई होता देखकर वीडियो बनाने वाला शख्स हंसता है. वायरल वीडियो में सभी आरोपियों के चेहरे साफ दिखाई दे रहे हैं. लेकिन केस दर्ज होने के बावजूद अभी तक पुलिस के हाथ शराब माफियाओं के गिरेबान तक नहीं पहुंच पाए हैं. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पीड़ित युवक के भाई कैलाश निवासी अशोक सिंह राजपूत ने इस संबंध में रिपोर्ट दी है.

युवक का तारानगर से किया अपहरण
अशोक सिंह ने बताया कि उसका भाई राजेन्द्र सिंह प्राईवेट वाहन चलाता है. गांव के विनोद मेघवाल और उसके 5-6 अन्य साथी गांव में सार्वजनिक स्थान पर अवैध रूप से शराब बेचते हैं. इसका उसके भाई राजेन्द्र ने कई बार विरोध किया. इससे वे लोग उसके भाई से रंजिश रखने लग गये. हाल ही में आरोपियों ने उसके भाई राजेन्द्र का तारानगर से अपहरण कर लिया. बाद में सुनसान जगह ले जाकर उसके भाई से 2 लाख रुपये लूट लिये.

अवैध शराब का कारोबार करने के लिए बनाया दबाव
आरोपियों ने राजेन्द्र पर अवैध शराब का कारोबार करने के लिए दबाव बनाया. जब उसके भाई ने मना किया तो उक्त सभी ने उसके साथ थप्पड़ मुक्कों से मारपीट की. उसके बाद उसकी पेंट उतारवा कर उसे गीली लकड़ियों से उसे पीटा गया. मारपीट का वीडियो इन्द्र नाम के युवक ने बनाया. बीते 24 अगस्त की शाम आरोपी विनोद मेघवाल ने गांव के व्हाट्सऐप ग्रुप में इस विडियो को वायरल कर दिया. उसके बाद राजेन्द्र बिना बताए घर से चला गया. उससे कोई संपर्क नहीं हो पा रहा है.

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close