क्राइम

लिवइन रिलेशन से भर गया मन तो युवक ने रची खौफनाक साजिश, पहले पार्टनर फिर उसकी बेटी को लगाया ठिकाने

बिहार के बांका में हुई इस घटना के बाद पुलिस ने केस का खुलासा कर लिया है. पुलिस के मुताबिक रुबैदा अपने पति की मौत के बाद इरशाद के साथ परिवार की रजामंदी से लिवइन में रह रही थी. पुलिस ने महिला और बच्ची, दोनों के शव अलग-अलग जगह से बरामद किया है.

बांका. रूबैदा के पति की जब मौत हुई तो उसे जिंदगी काटने के लिए एक हमसफर की तलाश थी. लिवइन पार्टनर के रूप में उसे इरशाद मिला जिसके साथ वो लिवइन रिलेशन में रहने लगी. 4 साल तक सबकुछ सही रहा. इस दौरान इरशाद और रूबैदा के साथ उसकी बेटी भी रहने लगी लेकिन लिवइन रिलेशन में चार वर्ष रहने के कुछ ऐसा हुआ कि इरशाद ने दोनों का कत्ल कर दिया.

लिवइन पार्टनर द्वारा दूसरी शादी करने के चक्कर में महिला और उसकी छह वर्षीय बच्ची की गला घोंटकर हत्या कर दी गई और शव को ठिकाने लगा दिया गया. मामला बिहार के बांका का है. इस सनसनीखेज मामले में पुलिस ने प्रेमी इरशाद अंसारी और उसके दादा रेजिन अंसारी को गिरफ्तार कर लिया है, साथ ही दोनों के शव को तीन दिनों के अंतराल पर अलग-अलग जगहों से पुलिस ने बरामद कर मामले का पर्दाफाश कर दिया है.

बांका जिले के बंधुआ कुरावा थाना क्षेत्र के मतवाला पहाड़ी के समीप से झाड़ी से छह वर्षीय एक अधमरी बच्ची को बरामद कर पुलिस द्वारा इलाज कराया जा रहा था, बावजूद बच्ची की आज भगलपुर में मौत हो गयी. इस मामले में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एक ऑटो के चालक इरशाद अंसारी को पकड़ा गया था जिससे पूछताछ के क्रम में बच्ची और उसकी मां की गला घोंटकर हत्या करने की बात कबूल ली. सख्ती के पूछताछ के क्रम में बच्ची की मां रुबैदा खातून का भी शव सड़ी-गली अवस्था में बरामद कर लिया गया है.

बांका से एसडीपीओ बिपिन बिहारी ने बताया कि इस हत्याकांड को अंजाम देने में इरशाद के दादा रेजिन अंसारी भी शामिल था. इस बाबत बांका एसडीपीओ बिपिन बिहारी ने बताया कि रुबैदा खातून के पहले पति की मौत बीमारी के चलते चार वर्ष पूर्व होने के बाद इरशाद के संपर्क में आई. उसके साथ वो लिविंग रिलेशन में बच्ची को लेकर ही रहने लगी थी. इसी बीच इरशाद की शादी उसके दादा कहीं दूसरी जगह करना चाहते थे लेकिन रुबैदा इसका विरोध कर रही थी. रुबैदा के राह में रोड़ा बनने के चलते दादा और पोता, दोनों मिलकर बीते 22 अगस्त की रात को इस घटना को अंजाम दिया.

दोनों ने अपने ऑटो से इलाज कराने के बहाने रुबैदा और उसकी बच्ची को साथ लिया और ले जाकर पहले गला घोंटकर हत्या की फिर दोनों की लाशों को अलग-अलग जगह फेंक दिया. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार करने के साथ ही मामले का खुलासा कर लिया है.

 

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close