खेल

‘भारत से आने वाले पैसों से पलते हैं हमारे क्रिकेटर…’ शोएब अख्तर का बड़ा बयान, पाकिस्तान में बवाल तय!

एशिया कप में 2 सितंबर को भारत और पाकिस्तान की टक्कर होगी. इस महामुकाबले से पहले पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने पाकिस्तान क्रिकेट को लेकर बड़ी बात कह दी है. उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा है कि भारत से जो पैसा आईसीसी को आता है, उसका एक हिस्सा पाकिस्तान को मिलता है और उससे ही हमारे यहां घरेलू क्रिकेटरों को मैच फीस मिलती है.

नई दिल्ली.

शोएब अख्तर को भले ही क्रिकेट से संन्यास लिए लंबा वक्त हो चुका है लेकिन वो अक्सर अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं. वो दिल की बात बोलने में नहीं हिचकते, फिर चाहें उस पर कितना ही बड़ा बवाल क्यों न हो जाए. ऐसा ही कुछ शोएब ने एक बार फिर किया है. उन्होंने भारतीय खेल पत्रकार को दिए इंटरव्यू में पाकिस्तान क्रिकेट को लेकर बड़ी बात कही है. शोएब अख्तर ने कहा कि भारत के पैसों से पाकिस्तान के क्रिकेटर पलते हैं.

शोएब अख्तर ने भारतीय खेल पत्रकार बोरिया मजूमदार से भारत-पाकिस्तान के मुकाबले को लेकर हुई बातचीत के दौरान इस बात को माना. उन्होंने कहा कि बीसीसीआई के जरिए जो पैसा आईसीसी के पास आता है और फिर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल रेवेन्यू शेयरिंग के तहत वो पैसा पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को भेजती है. उसी पैसे के दम पर ही पाकिस्तान में घरेलू क्रिकेटर्स को मैच फीस मिल पाती है.

अख्तर ने आगे कहा, “वर्ल्ड कप 2023 सबसे अलग और रोमांचक होगा. क्योंकि मुझे अब 50 ओवर क्रिकेट का भविष्य नजर नहीं आ रहा है. मैं चाहता हूं कि भारत इस विश्व कप से खूब पैसे बनाए. कई लोग इस बात को कहने से हिचकेंगे. लेकिन मैं साफ कहता हूं कि भारत से जो रेवेन्यू आईसीसी को जाता है. उसका हिस्सा पाकिस्तान में भी आता है और इससे हमारे घरेलू क्रिकेटरों को मैच फीस मिलती है. यानी भारत से जो पैसा आ रहा है, उससे हमारे युवा क्रिकेटर पल रहे हैं.”

पूर्व पाकिस्तानी पेसर ने एशिया कप में भारत-पाकिस्तान मैच को लेकर कहा,”एक बार फिर दबाव टीम इंडिया पर होगा. उन्होंने कहा कि भारतीय मीडिया के कारण टीम इंडिया पर काफी दबाव बनता है. हर बार ऐसा ही होता है. उन्होंने कहा कि भारत पाकिस्तान से इसलिए नहीं हारता कि टैलेंटेड खिलाड़ी उसके पास नहीं है, बल्कि मीडिया का बहुत दबाव रहता है. पिछली बार भी एशिया कप के दौरान भारतीय मीडिया ने टीम इंडिया पर काफी दबाव बना दिया था. पूरे स्टेडियम को नीले रंग में रंग दिया गया था. ये कहा जा रहा था कि टीम इंडिया पाकिस्तान को आसानी से हरा देगी. इस वजह से हमारे ऊपर प्रदर्शन का कोई दबाव नहीं था. इसका नतीजा ये हुआ कि भारत दबाव में बिखर गया और हम खुलकर खेले और मैच जीत गए थे.”

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close