खेल

IND vs WI: ‘बहुत पैसा आ जाता है तो..’ कपिल देव के बयान से मच सकता है बवाल, प्लेयर्स को बताया घमंडी

भारतीय टीम को वेस्टइंडीज के खिलाफ (IND vs WI) दूसरे वनडे में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा. जिसके बाद टीम को काफी आलोचनाओं का शिकार भी होना पड़ रहा है. टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने भी टीम के खिलाड़ियों को पर ढींगरा फोड़ दिया है.

नई दिल्ली.

वेस्टइंडीज के खिलाफ (IND vs WI) दूसरे टेस्ट में भारतीय टीम के बैटिंग ऑर्डर में अजीबोगरीब उठा-पटक देखने को मिली. जिसका भुगतान मेहमानों को हार से करना पड़ा. अब सीरीज में दोनों टीमें 1-1 से बराबरी पर पहुंच चुकी हैं. हार के बाद टीम को काफी आलोचनाओं का शिकार भी होना पड़ रहा है. 1983 विश्व कप विजेता कपिल देव ने भी इंडियन प्लेयर्स पर गुस्सा निकाल दिया है. पूर्व कप्तान ने इंडियन प्लेयर्स की चुन-चुनकर गलतियां गिना दी हैं.

दूसरे वनडे में टीम के नियमित कप्तान रोहित शर्मा और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं थे. इस मैच में संजू सैमसन, सूर्यकुमार यादव और ईशान किशन जैसे खिलाड़ियों को तबज्जो दी गई. ईशान किशन ने शानदार अर्धशतकीय पारी खेली, इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज 30 का आंकड़ा नहीं छू सका. टीम इंडिया 200 रन के भीतर ही सिमट गई, जवाबी कार्यवाही में मेजबान टीम ने 36.4 ओवर में 182 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया. कपिल देव का मानना है कि इंडियन प्लेयर्स पैसे के अंहकार में डूब चुके हैं.

पैसा आने के बाद अहंकार आ जाता है- कपिल देव

कपिल देव ने कहा, ‘आपको किसी से राय लेने की जरूरत नहीं. मेरा मानना है कि एक अनुभवी व्यक्ति आपकी मदद कर सकता है. कभी-कभी बहुत ज्यादा पैसा आता है तो अहंकार आ जाता है. इन खिलाड़ियों को लगता है कि उन्हें सब पता है, यही अंतर है. मैं कहूंगा कि अभी बहुत सारे खिलाड़ी हैं जिन्हें मदद की जरूरत है. सुनील गावस्कर हैं, तो आप उनसे बात क्यों नहीं कर सकते? उन्हें लगता है कि हम काफी अच्छे हैं.’

पूर्व कप्तान ने कहा, ‘इन प्लेयर्स के बारे में अच्छी बात यह है कि वे काफी आश्वत हैं. लेकिन नकारात्मक बात है कि वे सोचते हैं कि उन्हें सब पता है. मुझे नहीं पता इस बात को और कितना बेहतर तरीके से रखा जाए. लेकिन वे आश्वत हैं.’

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Crime Cap News
Close