दिल्ली

पैगंबर टिप्पणी विवाद: दिल्ली और उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर विरोध-प्रदर्शन

बीजेपी के पूर्व नेता नूपुर शर्मा औ नवीन कुमार जिंदल की पैगंबर पर की गई टिप्पणियों को लेकर आज दिल्ली और उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में भारी विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है

दिल्ली में जामा मस्जिद के बाहर भारी संख्या में प्रदर्शनकारी जमा हुए हैं और नारे लगा रहे हैं.

नई दिल्ली: 

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की पूर्व नेता नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल द्वारा पैगंबर पर की गई टिप्पणियों को लेकर आज दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भारी विरोध प्रदर्शन किया गया. शुक्रवार की नमाज के बाद ये विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ था. दिल्ली में जामा मस्जिद के बाहर भारी संख्या में प्रदर्शनकारी जमा हुए थे और नारे लगा रहे थे. सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारियों के डर से लोगों ने अपनी दुकानें भी बंद कर दी थी. वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने हालातों को काबू में कर लिया है. दूसरी यूपी के मुरादाबाद में नमाज पढ़ने के बाद नमाजियों ने नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल की गिरफ्तारी के लेकर जमकर प्रदर्शन की थी.

मथुरा, बुलंदशहरी में शांतिपूर्ण तरीके से नमाज़ अदा हुई

पिछले सप्ताह नमाज़ के बाद ही कानपुर में हिंसा हुई थी. ऐसे में डीएम और एसएसपी कल शाम से ही जनपद के अलग-अलग शहरों में गश्त पर थे. जिसके कारण तमाम कस्बों में शांतिपूर्ण तरीके से नमाज़ अदा की गई है. इसी तरह से मथुरा में कान्हा की नगरी में नमाज को लेकर पुलिस अलर्ट मोड़ पर है. ड्रोन से संवेदनशील स्थानों पर रखी जा रही नजर है. सुरक्षा को लेकर पुलिस प्रशासन के पुख्ता इंतजाम है.

बता दें कि पार्टी ने राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) को निलंबित कर दिया है. जबकि दिल्ली इकाई के मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल (Naveen Kumar Jindal) को निष्कासित किया गया है. यहां तक की दोनों नेताओं ने अपना बयान भी वापस ले लिया है. लेकिन ये विवाद बढ़ता ही जा रही है.

इतना ही नहीं इन दोनों नेताओं के खिलाफ केस भी दर्ज किया गया है. कल दिल्ली पुलिस ने कहा था कि उन्होंने नूपुर शर्मा, जिंदल और अन्य के खिलाफ सोशल मीडिया पर “विभाजनकारी तर्ज पर लोगों को उकसाने” के लिए शिकायत दर्ज की है.  दिल्ली पुलिस के अनुसार उसने कुछ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है, जो कथित रूप से नफरत के संदेश फैला रहे हैं और विभिन्न समूहों को उकसा रहे हैं.  भाजपा प्रवक्ताओं, एक सांसद, एक पत्रकार, सोशल मीडिया यूजर्स और धार्मिक संगठनों के सदस्यों के नाम पर दो प्राथमिकी दर्ज की गई हैं. दिल्ली पुलिस की ओर से जिन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, उनमें ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी का नाम भी शामिल है.

 

Show More

Related Articles

Back to top button
Crime Cap News
Close