Breaking News

लखीमपुर खीरी कांड में किसानों की हत्या यह कोई साधारण अपराध नहीं है।:सलमान खुर्शीद

लखीमपुर खीरी कांड में किसानों की हत्या असाधारण दुस्साहस का नतीजा: खुर्शीद

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने लखीमपुर खीरी में पिछले हफ्ते हुई किसानों की हत्या को असाधारण दुस्साहस का नतीजा करार दिया है। खुर्शीद ने रविवार को कहा कि लखीमपुर की घटना असाधारण अपराध है क्योंकि यह घोर दुस्साहसिक रवैये का परिणाम है।

 

उन्होंने कहा, असल बात यह है कि वह रवैया बेहद घातक है, जिसके चलते लखीमपुर खीरी में यह घटना हुई। यह कोई साधारण अपराध नहीं है। यह लोकतांत्रिक तरीके से किए जा रहे प्रदर्शन के प्रति दुस्साहसिक रवैये के कारण अंजाम दिया गया जुर्म है।
 

यह भारतीय लोकतंत्र में अनेक लोगों के लिए विध्वंसकारी साबित होगा
 

खुर्शीद ने कहा, अगर यह रवैया जारी रहा तो यह भारतीय लोकतंत्र में अनेक लोगों के लिए विध्वंसकारी साबित होगा। मेरा मानना है कि इसके खिलाफ पुरजोर तरीके से लड़ाई लड़नी होगी। यह सवाल किये जाने पर कि कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी की हिंदुत्ववादी राजनीति से किस तरह मुकाबला करेगी, पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा भारत हिंदू बहुल राष्ट्र है।
 

उत्तर प्रदेश भी हिंदुओं की बड़ी आबादी वाला राज्य है। ईमानदारी से आप विश्वास नहीं कर सकते कि शासन के संचालन में बहुसंख्यकों की कोई आवाज नहीं होगी, निश्चित रूप से होगी लेकिन बहुसंख्यकों की आवाज का यह मतलब नहीं है कि अल्पसंख्यकों की आवाज को पूरी तरह दबा दिया जाए।
 

खुर्शीद ने कहा कि हिंदुत्व को लेकर कांग्रेस का एक अभियान है तथा इस अभियान में जो हिंदुत्व शामिल किया गया है वह समावेशी और धर्मनिरपेक्ष है और यही वजह है कि हिंदुत्व को इस्लाम समेत सभी धर्मों में हाथों हाथ लिया जाता है। उन्होंने कहा कि भाजपा यह सोचती है कि हिंदुत्व अकेला है जबकि हम कहते हैं कि हिंदुत्व अन्य धर्मो के साथ है। हमें उम्मीद है कि लोग हमारा साथ देंगे।
 

कोविड-19 के दौरान सरकार की घोर विफलता को लोग भूल नहीं पाएंगे
 

उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर माहौल के बारे में पूछे जाने पर खुर्शीद ने कहा, उत्तर प्रदेश में भाजपा विरोधी लहर चल रही है। मुझे लगता है कि कोविड-19 महामारी के दौरान सरकार की घोर विफलता को लोग भूल नहीं पाएंगे। यह बहुत संवेदनशील मामला है। लोगों में सरकार के प्रति बहुत नाराजगी है।
यह पूछे जाने पर कि वर्तमान में कांग्रेस की कमान किसके हाथ में है, खुर्शीद ने कहा, सोनिया गांधी हमारी अध्यक्ष और राहुल गांधी तथा प्रियंका गांधी हमारे नेता हैं। नेता बनने के लिए राहुल गांधी का अध्यक्ष बनना जरूरी नहीं है। आपने मुझसे यह सवाल इसलिए पूछा क्योंकि वह नेता हैं। जब आप किसी को नेता के रूप में स्वीकार कर लेते हैं तो आपको उसकी सलाह लेनी होती है।
 

क्या ओवैसी देश की समस्याओं का हल करने में सक्षम है?
 

सांसद असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उतरने के बारे में पूछे जाने पर खुर्शीद ने कहा कि जो लोग ओवैसी की पार्टी की तरफ आकर्षित हो रहे हैं उन्हें यह सोचना चाहिए कि क्या वह पार्टी देश की समस्याओं का हल करने में सक्षम है।
 

त्रिशंकु विधानसभा होने की स्थिति में कांग्रेस किस दल को सहयोग करेगी, इस सवाल पर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, हम उत्तर प्रदेश में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे हैं और हम इससे समझौता नहीं करना चाहते।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close