मनोरंजन

‘नो एंट्री’ ही नहीं, 1987 और 2009 की ब्लॉकबस्टर का बनेगा सीक्वल! फिल्ममेकर ने दिया अपडेट, सलमान खान हुई बात

बोनी कपूर ने न्यूज को दिए इंटरव्यू में दो अन्य ब्लॉकबस्टर फिल्मों के सीक्वल बनाने के बारे में बात की है. फैंस भी इन फिल्मों को सीक्वल का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.

मुंबई.

बोनी कपूर बीते दिनों से चर्चा में हैं. वह कई अपनी की सुपरहिट फिल्मों के सीक्वल बनाने की बात कह चुके हैं. हाल में ‘मैदान’ के प्रमोशन इवेंट में ‘नो एंट्री’ के सीक्वल ‘नो एंट्री 2’ का ऐलान किया था. फिल्म में अर्जुन कपूर, वरुण धवन और दिलजीत दोसांझ को कंफर्म कर लिया है. एक्ट्रेस का सेलेक्शन होना अब भी बाकी है. अब उन्होंने न्यूज 18शोशा को दिए इंटरव्यू में दो अन्य ब्लॉकबस्टर फिल्मों के सीक्वल बनाने के बारे में बात की है. फैंस भी इन फिल्मों को सीक्वल का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.

बोनी कपूर ने साल 1987 में आई अनिल कपूर-श्रीदेवी स्टारर मि. इंडिया और साल 2009 में आई सलमान खान की कमबैक ब्लॉकबस्टर ‘वांटेड’ के सीक्वल के बारे में बात की. उन्होंने हमसे कहा, ”वांटेड के लिए मैंने सलमान से बात की है. मैं नहीं जानता कि कब बनेगी. लेकिन सलमान ने मुझसे वादा किया है कि जब भी सभी स्क्रिप्ट मिलेगी. वह फिल्म करेंगे.”

बोनी कपूर ने आगे कहा, “यह मेरी आखिरी बातचीत है जब मैं उन्हें यह बताने के लिए गया था कि मैं एक नई स्टार कास्ट के साथ ‘नो एंट्री’ बनाने जा रहा हूं. फिर मैंने उनसे कहा, ‘मैं वांटेड बना रहा हूं, क्या आप इसका हिस्सा बनेंगे?’ उन्होंने कहा, ‘हां.” मेरे पास एक आइडिया है, मैं इस पर काम करूंगा. जब फाइनल होगा, तो बात करूंगा.”

‘मि. इंडिया’ के लिए विदेशी स्टूडियो से मिलाया हाथ

‘मि. इंडिया’ के सीक्वल के बारे में बोनी कपूर ने कहा, ”मैंने एक बड़े विदेशी स्टूडियो के साथ कुछ बैठकें की हैं, जो हमार साथ काम कर सकते हैं. यह एक विदेशी स्टूडियो, ज़ी और मेरा कोलाबोरेशन हो सकता है. यह सीक्वल नहीं हो सकता है, यह सिर्फ रीबूट या कुछ भी हो सकता है. एक बार फिर ‘मिस्टर इंडिया’ बनाने का विचार है.”

अनिल कपूर की ‘मि. इंडिया’ की प्लानिंग…

बोनी कपूर ने कहा कि अनिल कपूर की फिल्म की प्लानिंग इस साल या अगले साल तक पूरी हो सकती है. इस तरह की फिल्मों की प्लानिंग एक झटके में नहीं की जा सकती. बोनी ने बताया कि मि. इंडिया के हिट होने की सबसे बड़ी वजह श्रीदेवी, अमरीश पुरी और सतीश कौशिक थे, जिनके डायलॉग्स और अदाकारी ने लोगों को इम्प्रेस किया. मोगैम्बो खुश हुआ जैसी लाइनें जावेद अख्तर ने लिखी थी. उनसे आगे निकलकर कोई फिल्म बनानान बड़ी बात है.

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close