क्राइम

जाम में जहर देकर किया खत्म फिर दर्ज कराया सुसाइड का केस, पिता के कत्ल में बेटी बनी मां की मददगार

हत्या की ये घटना झारखंड के पलामू की है. इस केस में पुलिस ने आरोपी पत्नी और बेटी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के समक्ष दोनों आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. मृतक की पत्नी चिंता देवी ने तरसती थाना में यू डी कांड 3/23 दर्ज किया था,

पलामू.

झारखंड में एक महिला ने अपने पति की हत्या कर दी. हत्या की इस घटना को अंजाम देने में उसकी बेटी भी मददगार बनी. दोनों ने मिलकर इस घटना को बड़ी शातिराना अंदाज में अंजाम दिया लेकिन पुलिस ने जब सख्ती दिखाई और जांच की तो पूरी कहानी सामने आ गई. पति की हत्या के मामले में पुलिस ने पत्नी और बेटी को गिरफ्तार कर लिया है.

मामला तरहसी थाना क्षेत्र के भालोगड़ी गांव का है. दरअसल 7 सितंबर को तरहसी थाना क्षेत्र के भालोगाड़ी गांव में एक कुएं से सुरेंद्र साहू नामक व्यक्ति का शव पुलिस ने बरामद किया था. मामले की छानबीन में तरहसी थाना पुलिस जुटी थी इस दौरान छानबीन में चौंकाने वाला खुलासा सामने आया. दरअसल शराब के नशे में धुत्त रहने वाले पति को उसकी ही पत्नी चिंता देवी ने शराब में जहर मिलाकर जान ले ली. बताया जा रहा है कि मृतक सुरेंद्र साव लगातार पत्नी और बेटी के साथ शराब के नशे में मारपीट करता था. इससे तंग आकर मां बेटी ने शराब में जहर मिलाकर उसे मौत के घाट उतार दिया.

पुलिस ने केस को सुलझाते हुए पत्नी और बेटी को गिरफ्तार किया है. मामले का खुलासा लेस्लीगंज एसडीपीओ आलोक टूटी ने किया. पुलिस ने बताया कि 45 वर्षीय सुरेंद्र साहू का शव 7 सितंबर गुरुवार को उसके घर के समीप एक कुआं में मिला था जिसकी सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी थी वहीं शव मिलने के बाद तरहसी थाना पुलिस त्वरित कार्रवाई करते हुए अनुसंधान शुरू किया था. अनुसंधान के क्रम में पुलिस को सफलता भी मिली पुलिस ने मृतक सुरेंद्र के पत्नी चिंता देवी एवं बेटी पूजा कुमारी से पूछताछ शुरू की.

इस क्रम में सुरेंद्र के पत्नी चिंता देवी और बेटी ने हत्या करने की बात कबूल करते हुए बताया कि नशा के क्रम में हम दोनों मां बेटी के साथ 4/9/23 सोमवार को मारपीट किया था अगले दिन मंगलवार को योजना बनाकर शराब में जहर मिलाकर पिला दिया. इसके बाद पीट-पीटकर हत्या कर दी और घर में जलावन की लकड़ी में शव को छिपा दिया था. मौका पाते ही 6 सितंबर को बुधवार को रात्रि लगभग नौ बजे कुआं में शव को डाल दिया. पूर्व में मृतक की पत्नी चिंता देवी ने तरसती थाना में यूडी कांड 3/23 दर्ज किया था, वहीं पुलिस ने इस कांड में तरहसी थाने में धारा 302, 201, 34 दर्ज करते हुए मृतक सुरेंद्र के पत्नी चिंता देवी एवं बेटी पूजा को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

एसडीपीओ आलोक कुमार टूटी ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि मृतक का शव मिलते ही एक टीम का गठन किया गया था. टीम ने मामले को गंभीरता से जांच करते हुए केस का खुलासा किया है. पत्नी ने बयान दिया है कि मृतक लगातार शराब के नशे में धुत्त होकर पत्नी और बेटी के साथ प्रतिदिन मारपीट करता था, इसलिए ऐसी घटना को अंजाम दिया है.

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close