खेल

नंबर-1 टीम पाकिस्तान में 2 बड़ी कमजोरी, टीम इंडिया ने की चोट तो होगी जीत पूरी, बाबर आजम भी मलते रह जाएंगे हाथ

पाकिस्तान भले ही भारत के खिलाफ वनडे की नंबर-1 टीम की हैसियत से एशिया कप का मैच खेलेगा. लेकिन बाबर आजम की सेना में भी 2 ऐसी कमजोरी है, जिस पर चोट करके टीम इंडिया वनडे में पाकिस्तान के खिलाफ जीत के सिलसिले को बरकरार रख सकती है.

नई दिल्ली.

पाकिस्तान की टीम भारत के खिलाफ एशिया कप के अपने दूसरे मैच में वनडे की नंबर-1 टीम की रुतबे के साथ उतरेगी. पाकिस्तान ने एशिया कप का आगाज भी धमाकेदार जीत से किया है. बाबर आजम की सेना ने पहले मैच में नेपाल को 238 रन के बड़े अंतर से हराया था. इस मैच में बाबर और इफ्तिकार अहमद ने शतक ठोके थे. शाहीन अफरीदी और शादाब खान भी गेंदबाजी में चमके थे. शायद यही कारण है कि पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ मुकाबले के लिए 24 घंटे पहले ही अपनी प्लेइंग-11 का ऐलान कर दिया था.

पाकिस्तान की टीम भले ही वनडे में नंबर-1 बन गई है और उसका हालिया वनडे रिकॉर्ड भी बेहतरीन है. पाकिस्तान ने पिछले 9 में से 8 वनडे जीते हैं. लेकिन जब बात भारत से भिड़ने की आती है तो फिर खेल बदल जाता है. भारत ने पाकिस्तान को पिछले पांच में से 4 वनडे में हराया है और भले ही पाकिस्तान वनडे की बेस्ट टीम हो लेकिन इस टीम में भी 2 कमजोरियां ऐसी हैं, जिस पर टीम इंडिया चोट कर अपने जीत के सिलसिले को बरकरार रख सकती है.

बाबर पर ही पाकिस्तान की बैटिंग टिकी है
पाकिस्तान की पहली कमजोरी ये है कि उसकी पूरी बैटिंग बाबर आजम पर टिकी है. अगर बाबर का बल्ला बोलता है तो ठीक, वर्ना पाकिस्तान की टीम लड़खड़ा जाती है. नेपाल के खिलाफ भी यही नजर आया था. फखर जमां और इमाम उल हक दोनों फ्लॉप रहे थे. बाबर के शतक के दम पर पाकिस्तान ने 300 से अधिक रन का स्कोर खड़ा किया था. यानी टीम इंडिया को भी बाबर पर चोट करनी होगी. अगर पाकिस्तान के कप्तान को जल्दी आउट कर दिया तो फिर मैच मुठ्ठी में आ सकता है. क्योंकि फखर जमां आउट ऑफ फॉर्म हैं और मोहम्मद रिजवान पहली बार वनडे में भारत के खिलाफ उतरेंगे. उनका हालिया फॉर्म बहुत अच्छा नहीं है.

पाकिस्तान का मध्यक्रम कमजोर
पाकिस्तान के मिडिल ऑर्डर का भी भारत जैसा ही हाल है. इफ्तिखार अहमद ने भले ही नेपाल के खिलाफ शतक ठोका हो लेकिन अच्छी गेंदबाजी वाली टीम के सामने उनके लिए रन बनाना आसान नहीं होगा. अफगानिस्तान के खिलाफ पिछले महीने ही हुई वनडे सीरीज में पाकिस्तान का मध्यक्रम संघर्ष करता नजर आया था. यानी भारत ने बाबर, इमाम जैसे बल्लेबाजों को सस्ते में समेट दिया तो फिर पाकिस्तान की बल्लेबाजी बिखर सकती है.

पाकिस्तान की गेंदबाजी में भी है कमजोर कड़ी
पाकिस्तान के पास इस वक्त दुनिया का बेहतरीन बॉलिंग लाइन अप है. टीम के पास शाहीन अफरीदी, नसीम शाह और हारिस रऊफ के रूप में तीन दमदार तेज गेंदबाज हैं. अगर स्पिनर की बात करें तो शादाब खान भी लाजवाब हैं. नेपाल के खिलाफ वो 4 विकेट लेकर ये दिखा चुके हैं कि अगर पिच से थोड़ी भी मदद मिली तो वो क्या कर सकते हैं. लेकिन पांचवां गेंदबाज पाकिस्तान की कमजोरी है और भारत को इसी पर वार करना होगा.

नवाज पर टीम इंडिया कर सकती है वार
बाएं हाथ के स्पिनर मोहम्मद नवाज 5वें गेंदबाज के रूप में खेलेंगे. पिछले साल टी20 विश्व कप में मोहम्मद नवाज ने ही भारत के खिलाफ आखिरी ओवर फेंका था और विराट कोहली ने छक्का जड़कर उन्हें दबाव में ला दिया था. इसी दबाव के कारण उन्होंने फाइनल ओवर में 2 वाइड भी फेंकी थी. यानी नवाज ही गेंदबाजी में वो कमजोरी कड़ी हैं, जिस पर टीम इंडिया वार करके मैच बना सकती है.

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close