खेल

‘बुमराह को हुआ क्या है, वर्ल्ड कप में नहीं खेले तो…’ कपिल देव ने पेसर पर उठाए सवाल, BCCI को भी लपेटा

हाल के महीनों में भारतीय टीम अहम खिलाड़ियों की चोट से जूझती दिखी है. स्टार खिलाड़ियों के टीम से लंबे वक्त से बाहर रहने के कारण बड़े टूर्नामेंट में टीम के प्रदर्शन पर इसका असर पड़ा. कपिल देव ने भी एक हालिया इंटरव्यू पर जसप्रीत बुमराह के हवाले से इस मसले पर बात की और बीसीसीआई की रणनीति पर भी सवाल उठाए.

नई दिल्ली. भारत को 1983 में पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाले कप्तान कपिल देव इन दिनों अपने बयानों को लेकर चर्चा में हैं. वो टीम इंडिया को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे और साथ ही बीसीसीआई पर भी सवाल उठाने से नहीं चूक रहे. वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे वनजे में टीम इंडिया की लचर बल्लेबाजी पर भी कपिल ने सवाल उठाए थे. मुख्य खिलाड़ियों के चोटिल होने के कारण बड़े आईसीसी टूर्नामेंट में भारत के प्रदर्शन पर असर पड़ने को लेकर भी कपिल ने अपनी बात रखी थी. उन्होंने हाल ही में एक इंटरव्यू में कहा कि खिलाड़ी छोटी-मोटी चोट के साथ आईपीएल तो खेल लेते हैं लेकिन जब नेशनल टीम के लिए ऐसा करने की बात आती है तो वो बाहर बैठना पसंद करते हैं.

कपिल देव ने इसी इंटरव्यू के दौरान स्ट्रेस फ्रैक्चर के कारण बीते 1 साल से टीम इंडिया से बाहर चल रहे पेसर जसप्रीत बुमराह की फिटनेस पर भी सवाल उठाए. उन्होंने द वीक को दिए इंटरव्यू में बुमराह की प्रोगेस को लेकर कहा, बुमराह को क्या हुआ है? उन्होंने बहुत विश्वास के साथ काम करना शुरू किया था लेकिन अगर वो वहां (विश्व कप सेमीफाइनल या फाइनल में) नहीं हैं तो हमने उनके ऊपर वक्त बर्बाद किया है.ऋषभ पंत..इतने अच्छे क्रिकेटर हैं. अगर वो टीम में रहते तो हमारा टेस्ट क्रिकेट अच्छा होता. बता दें कि दो महीने बाद विश्व कप है और ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह, केएल राहुल श्रेयस अय्यर जैसे अहम खिलाड़ी चोट के बाद अपना रिहैब पूरा करके टीम में वापसी की कोशिशों में जुटे हैं.

कपिल देव ने इंटरनेशनल क्रिकेट पर इंडियन प्रीमियर लीग को प्राथमिकता देने के भारतीय खिलाड़ियों के रवैये की आलोचना की. उन्होंने कहा, ”भगवान दयालु हैं, ऐसा नहीं है कि मैं कभी घायल नहीं हुआ. लेकिन आज, वे साल में 10 महीने खेल रहे हैं. ऐसे में भारतीय खिलाड़ियों को संदेह का लाभ दिया जाना चाहिए लेकिन हर किसी को अपना ख्याल रखना होगा. आईपीएल बहुत अच्छी चीज है लेकिन ये आपको बर्बाद भी कर सकता है. मामूली चोट के साथ आप आईपीएल में खेलेंगे लेकिन जब भारत के लिए ऐसा करने की बारी आएगी तो आप ब्रेक ले लेंगे. मेरी इसे लेकर सोच साफ है.”

डोनेट करें - जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर क्राइम कैप न्यूज़ को डोनेट करें.
 
Show More

Related Articles

Back to top button
Close